Skip to content

सामाजिक स्तरीकरण एवं विभेदीकरण
(Social Stratification and Differentiation)

सामाजिक स्तरीकरण सामाजिक स्तरीकरण व्यक्तियों का समूहों के आधार पर उच्चता एवं निम्नता के स्तर पर विभाजन है | सामाजिक स्तरीकरण में हम मुख्यतः असमानता… Read More »

सामाजिक स्तरीकरण एवं विभेदीकरण
(Social Stratification and Differentiation)

व्यक्ति और समाज (Individual and Society)

अंत:क्रिया द्वारा व्यक्तियों के बीच जो संबंध पाये जाते हैं उसी को समाज कहते हैं, साथ ही समाज में विद्यमान रीति-रिवाज, मूल्य, प्रतिमान, प्रथा, परम्परा… Read More »

व्यक्ति और समाज (Individual and Society)

धर्म (Religion)

धर्म शब्द का प्रयोग अलौकिक शक्ति में विश्वास के लिए किया जाता है | इस विश्वास का प्रभाव मानवीय जीवन के व्यवहार पर भी पड़ता… Read More »

धर्म (Religion)

परिवार : परिभाषा, प्रकार, विशेषताएँ(Family: Definition, Types, Characteristics)

परिवार की परिभाषा (Definition of Family) परिवार एक छोटा सामाजिक समूह है, जिसके अंतर्गत पति-पत्नी एवं उनके बच्चे शामिल होते हैं | प्रत्येक मानव समाज… Read More »

परिवार : परिभाषा, प्रकार, विशेषताएँ(Family: Definition, Types, Characteristics)

विवाह (Marriage)

विवाह (marriage) विवाह एक सार्वभौमिक एवं अनिवार्य संस्था है , जो प्रत्येक समाज में विभिन्न संस्कारों एवं कर्मकाण्डों द्वारा संपन्न किया जाता है | यह… Read More »

विवाह (Marriage)

समुदाय| समिति| संस्था (Community| Association| Institution in hindi)

समुदाय (Community) किसे कहते हैं? समुदाय का तात्पर्य व्यक्तियों के ऐसे समूह से है ,जो किसी निश्चित भू-क्षेत्र में रहते हैं तथा सभी व्यक्ति आर्थिक… Read More »

समुदाय| समिति| संस्था (Community| Association| Institution in hindi)

समाज (Society)

समाज साधारण अर्थ में समाज का तात्पर्य व्यक्तियों के समूह के लिए किया जाता है | लेकिन समाजशास्त्रीय अर्थों में व्यक्तियों के बीच जो सामाजिक… Read More »

समाज (Society)

समाजशास्त्र में अध्ययन पद्धति
(Study methods in Sociology)

समाजशास्त्र में अध्ययन पद्धति का उद्देश्य सामाजिक प्रघटना (Phenomenon) का यथार्थवादी अध्ययन है ,जो व्यक्तिगत गुणों पर निर्भर न कर प्रक्रिया पर निर्भर करता है… Read More »

समाजशास्त्र में अध्ययन पद्धति
(Study methods in Sociology)

समाजशास्त्र की प्रकृति|Samajshastra ki prakriti|(Nature of Sociology in hindi)

समाजशास्त्र की प्रकृति|Samajshastra ki prakriti| जब हम किसी विषय के प्रकृति की चर्चा करते हैं तो यह देखते हैं कि वह विषय विज्ञान है या… Read More »

समाजशास्त्र की प्रकृति|Samajshastra ki prakriti|(Nature of Sociology in hindi)

error: